Friday, February 09, 2018

RAIN & HAILS LIKELY IN CENTRAL & NORTH INDIA, HEAVY SNOW OVER HILLS.[with Hindi/हिंदी Update]

Wait of Rains in states of central india is finally over as first Good spell of rain is in store for region at the same time Jammu & Kashmir, Himachal Pradesh will receive first heavy snowfall and good shower's in plains of north India. A fresh strong Western disturbance will start impacting western Himalayas from tommrow night onwards causing occasional light to moderate rain & snow. In the wake of WD a cyclonic circulation will induce over Central Rajasthan, by the morning of 11th February isolated light rains will occur over Parts of NW Rajasthan, West Haryana and SW Punjab, by afternoon hours Rain will cover more parts of Haryana & Delhi NCR. Intensity & spread of Rain will increase on 12th February when hilly States Jammu & Kashmir, Himachal pradesh will receive widespread heavy snowfall and fairly widespread moderate to Good rains/thundershowers over Punjab, Haryana, Chandigarh, Delhi NCR, Uttarpradesh, uttrakhand. Rainfall activities will continue till afternoon of 13th feb, during these 60 hours isolated places in plains may witness hailstorm activities causing damage in standing mustard & wheat crop. Farmers are advised not to irrigate Fields further and to take care of there crops, minimum temperature will rise by 3-4°c while maximum temperature will drop subsequently due to which coldday conditions may be seen in Some parts of Punjab, NE Haryana on 12 & 13 Feb. Coldday conditions are declared when maximum temperature is equal to or below 16°c, Day temperature in delhi may remain near 18°c on 12 or 13feb making chilly weather in afternoon hours.  At the same time easterly winds in central india will trigger thunderstorms, fairly widespread Moderate rains along with gusty winds and hailstorm activities will be seen in Vidharbh, Central & East Madhya pradesh, Chhattisagrh, Jharkhand & west Odisha from 11th to 13feb. Rains will be very beneficial but hailstorm will cause losses to farmers.
----------------------------------
BY: Navdeep Dahiya
(Founder/CEO LWI)
©LWI

Hindi Update:-
उत्तर व मध्य भारत में वर्षा और ओलावर्ष्टि, पहाड़ो पर भारी बर्फबारी की आशंका।।
 -----------------------------------
 मध्य भारत के राज्यों में वर्षा की प्रतीक्षा अंत होने वाली है क्योंकि जल्द ही यह क्षेत्र सर्दियों की इस ऋतु की पहली अच्छी वर्षा से भाव विभोर होने वाला है और इसी समय जम्मू एवं कश्मीर तथा हिमाचल प्रदेश में ऋतु की पहली भारी बर्फबारी तथा मैदानी भागो में अच्छी वर्षा अपेक्षकृत है। एक ताजा मजबूत पश्चिमी अशांति कल रात से पश्चिमी हिमालय को प्रभावित करते हुए  बारिश और मध्यम हिमपात का दौर शुरू कर देगी। पश्चिमी विक्षोभ के मद्देनजर ही एक चक्रवाती परिसंचरण मध्य राजस्थान पर विकसित होगा और इसी मौसमी प्रणाली से प्रेरित होकर ही 11 फरवरी की सवेरे से  उत्तर पश्चिमी राजस्थान, पश्चिम हरियाणा और दक्षिण पश्चिमी पंजाब के कुछ हिस्सों में बारिश का क्रम शुरू होगा और दोपहर बढ़ते बढ़ते यह बारिश हरियाणा और दिल्ली समेत राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के अधिक भागों
 को अपनी गिरफ्त में ले लेगी । तीव्रता और बारिश के प्रसार में 12 वीं फरवरी से बढ़ोतरी होगी जब पहाड़ी राज्यों जम्मू एवं कश्मीर, हिमाचल प्रदेश में बड़े पैमाने पर भारी बर्फबारी दर्ज की जाएगी और  पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली एनसीआर समेत उत्तर प्रदेश व  उत्तराखंड में  काफी बड़े पैमाने पर मध्यम से अच्छी तीव्रता की बारिश तेज़ हवाओ के साथ दर्ज किए जाने की प्रबल संभावना है। वर्षा की  इन 60 घंटे की अवधि के दौरान,जिसके 13 फरवरी की मध्य तक जारी रहने के आसार है, मैदानों में अलग-अलग स्थानों पर ओला वृष्टि की गतिविधियों से इनकार नही किया जा सकता जिसके चलते सरसों और गेहूं की खड़ी फसल को नुकसान पहुँच सकता है । किसान को अपने खेतों में और सिंचाई न करने की तथा उनकी आगामी मौसमी गतिविधियों के दौरान देखभाल करने की सलाह हम देना चाहते है , न्यूनतम तापमान से 3-4 डिग्री सेल्सियस की वृद्धि होगी जबकि अधिकतम तापमान में अच्छी खासी गिरावट होने के कारण 12-13 फरवरी को  पंजाब, पूर्वोत्तर हरियाणा के कुछ हिस्सों में ठंडे दिनों की स्तिथि को देखा जा सकता ।ठंडे दिन की स्थिति तब उत्पन्न होती है जब अधिकतम तापमान 16 डिग्री सेल्सियस या उससे नीचे पहुँच जाता है।दिल्ली में दिन का तापमान 12-13 फरवरी को दोपहर के घंटो को सर्द मौसम बनाने के लिए 18 डिग्री सेल्सियस के आसपास रह सकता है। इस एक ही समय में मध्य भारत में पूर्वी हवाओं के ज़ोर के कारण तेज हवाओं के साथ साथ गरज की बारिश और ओला वृष्टि की गतिविधियां तथा मध्यम दर्जे की बारिश छत्तीसगढ़, झारखंड, पश्चिम ओडिशा, विधर्भ और मध्य व पूर्वी मध्य प्रदेश में नजर आएंगी। बारिश का यह दौर  बहुत फायदेमंद होगा लेकिन ओलावृष्टि  किसानों के लिए नुकसानदेह साबित हो सकती है ।

Thursday, February 08, 2018

February 08, 2018 at 10:49PM


For more tweets follow :: @weatherofindia

February 08, 2018 at 10:39PM

Wednesday, February 07, 2018

February 07, 2018 at 04:21PM


For more tweets follow :: @weatherofindia

February 07, 2018 at 04:17PM


For more tweets follow :: @weatherofindia

February 07, 2018 at 01:05PM


For more tweets follow :: @weatherofindia

February 07, 2018 at 01:02PM


For more tweets follow :: @weatherofindia

February 07, 2018 at 12:54PM


For more tweets follow :: @weatherofindia

February 07, 2018 at 12:51PM


For more tweets follow :: @weatherofindia

February 07, 2018 at 12:37PM


For more tweets follow :: @weatherofindia